Tag: Holding Hands

कमर | Romantic Shayari

उँगलियाँ कमर को छूने को है वो मिरे ज़द में है, लेकिन मुहब्बत है उनसे और हम अपनी हद में है ।

Read more

तबाह उम्र | अधूरी मुहब्बत

इक तबाह उम्र, इक टूटा दिल टूटी उम्मीद और टूटे अरमान, मेरे कमरे में बिखरा पड़ा है, मोहब्बत का ये कुछ सामान |

Read more

नशा | रोमांटिक शायरी

तेरी थोड़ी सी पलकें झुका दे, तेरी उँगलियों को मेरी उँगलियों से मिला दे, तेरी जुल्फ़ें मेरे काँधे पर फैला दे, जो नशा तेरी आँखों में है तेरे होंठों से पिला दे ♥♥

Read more

हसीन ख़्वाब | हिंदी शायरी

तुम होंठों पे जो यूँ उँगलियाँ रख लेती हो, चाँद पे जो तिल है उसे ढक देती हो, मैं तो शायर हूँ तन्हाइयों में रहता हूँ, तुम हसीन ख़्वाब हो       हर इक आँख में रहती हो ♥♥

Read more

Teri Yaadein | Infinite LOVE

सूरज डूबने ही वाला था, कि तेरी यादें उभरने लगी, दिल की सुनसान गलियों से, तू ट्रेन सी गुजरने लगी ♥♥

Read more

चुभन | Unrequited LOVE

उस बहती नदी की कमर पकड़नी है, उन परिंदों के साथ साँसे लेनी है, उन गुलमोहर के पेड़ो से कुछ बातें कहनी है, उन सूखे गुलाबों से थोड़ी सी खुशबूं छीनी है, टूटती साँसों के साथ, अब ये जिंदगी जीनी है दिल पे थोड़ी चुभन सहनी है, मैंने आज फिर तेरी याद पहनी है ♥♥

Read more

कभी ऐसा हो | Hindi POETRY

कभी ऐसा हो कि चाँद भी ठंडी रात के आगोश में जले, कभी सूरज भी छांव-छांव चले, कभी ख़ुशबू तड़प कर हवा से गले मिले, तब मुझे भी तेरी बाहों में बहकने की सज़ा मिले ♥♥

Read more

तेरा चेहरा | Infinite LOVE

तेरे मेहँदी लगे हाथ मेरे हाथों पे रख दे, मेरे हाथों की धुंधली लकीरों को थोड़ा गहरा कर दे, इस उम्मीद में देखता हूँ आसमां कि तू नज़र आ जाये, कुछ देर उस चाँद को तेरा चेहरा कर दे ♥♥

Read more

पागल | AWARAPAN

तुम पुरे पागल हो, सिर्फ यही सुनने के लिए ही तो मैं पागल था ♥♥

Read more

Khaamoshiyaan | Hindi Poetry

ये जो ख़ामोशियों हैं ना तुम्हारी आँखों में, इन्हें लबों तक आने दो, ये दर्द ज़िंदगी से कुछ छीन ना ले, इसे यूँ ना ये लम्हें चुराने दो, दिल जो चाहता है बारिशों में भीगना, हर सांस को भीग जाने दो, ये शाम ना होगी इतनी हसीं फिर, इसे उदासियों में गुम ना हो जाने […]

Read more